चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!
चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!
चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!

टिशू पेपर या टॉयलेट पेपर का नाम सुनते ही सभी के दिमाग़ में एक ही ख़्याल आता है, कि टिशू पेपर की कीमत ही क्या होती है? यूज़ करो और फेंको. लेकिन अगर कभी ऐसा हो कि आप किसी पब्लिक प्लेस पर टॉयलेट यूज़ कर रहे हैं और वहां आपको टॉयलेट पेपर देने से मना कर दिया जाए, तो सोचिए उस कंडिशन में आप क्या करेंगे?

चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!
चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!

आजकल ऐसा ही कुछ चीन में भी हो रहा है, चीन की सरकार टॉयलेट पेपर की चोरी से इतनी तंग आ गई कि उसने एक ऐतिहासिक (इसे Funny पढ़िएगा) कदम उठा लिया. चीन में पर्यटन स्थलों में टॉयलेट पेपर की चोरी इतनी बढ़ गई कि सरकार इसे रोकने के लिए कैमरे लगवा रही है. वहीं सोशल मीडिया पर चीन सरकार के इस फैसले की काफ़ी निंदा भी हो रही है.

चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!
चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!

दरअसल वहां लोग इन सार्वजनिक स्थलों के टॉयलेट में बार-बार जाते हैं और इन पेपरो के पूरे-पूरे रिम उठा ले जाते हैं.

चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!
चीनियों, टॉयलेट पेपर भी नहीं छोड़ा. इतने चोरी किये कि सरकार को टॉयलेट्स में कैमरे लगवाने पड़ गए!

हॉन्ग-कॉन्ग के साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक, चीन की राजधानी बीजिंग के सबसे व्यस्त पर्यटन स्थलों में से एक टेंपल ऑफ़ हेवन और क्लेटोमानिया के शौचालयों में टॉयलेट में जाने से पहले लोगों को एक हाई-डेफ़िनिशन कैमरे के सामने खड़ा होना पड़ता है. कैमरे से जुड़ा सॉफ्टवेयर उनका चेहरा पहचान लेता है.अगर वो इंसान बार-बार आए, तो टॉयलेट पेपर वाली मशीन लॉक हो जाती हैं और पेपर नहीं निकलता.

Advertisement