अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए: बिल गेट्स
अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए: बिल गेट्स
अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए: बिल गेट्स

धीरे-धीरे रोबोट्स इंसान के हिस्से का सारा काम सभालने लगे हैं और कुछ ही सालों में ऐसा टाइम आएगा जब रोबोट इंसान क नौकरी भी ले लेंगे. ऐसे Insecure और अनिश्चित फ्यूचर पर माइक्रोसॉफ्ट के जनक बिल गेट्स का कहना है कि अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए.

बिल गेट्स का ये बयान उस समय आया, जब अगले कुछ सालों में लोगों की नौकरियां रोबोट के पास आ जाएंगी. उनका कहना है कि लोग अपनी सैलरी से टैक्स भरते हैं, तो उस हिसाब से रोबोट से भी उनकी सैलरी का टैक्स और सिक्योरिटी का टैक्स वसूला जाना चाहिए. ऐसा करने के पीछे उनका ये मानना है कि ऐसा करने से ऑटोमेशन का ये प्रोसेस थोड़ा स्लो हो जाएगा और बाकी ह्यूमन रिसोर्स के लिए और नौकरी कर सकते हैं.

अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए: बिल गेट्स
अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए: बिल गेट्स

उन्होंने कहा कि अगर लोगों की नौकरी रोबोट को दे ही रहे हैं, तो कम से कम उनके फ्यूचर को ध्यान में रखते हुए कुछ और तरह के काम का इंतेज़ाम करना ज़रूरी है.

अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए: बिल गेट्स
अगर रोबोट्स इंसानों की नौकरी लेते हैं, तो उनसे भी कर्मचारियों की तरह टैक्स वसूला जाना चाहिए: बिल गेट्स

हालांकि इस प्लान पर कुछ लोगों ने आपत्ति जताते हुए कहा कि ऐसा करने का बजाय, जिन लोगों की नौकरी रोबोट्स के आने से जाएगी, उनके किसी और तरह के प्रोग्राम या स्किल ट्रेनिंग में आर्थिक मदद करना ज़्यादा बेहतर रहेगा.

Advertisement